शुक्रवार, 1 मई 2015

अनुसन्धान के क्षेत्र में बिलासपुर का गौरव -समीक्षा वासनिक

Posted by with No comments

"कड़ी मेहनत और लक्ष्य तय कर काम करने से सफलता जरूर मिलती है"
अनुसन्धान के क्षेत्र में छत्तीसगढ़
का गौरव -समीक्षा वासनिक


"मुझे हमेशा प्रतिस्पर्धात्मक और चुनौती भरे माहौल में काम करना पसंद रहा है। कड़ी मेहनत और लक्ष्य तय कर काम करने से सफलता जरूर मिलती है"- समीक्षा वासनिक। छोटी सी कद काठी की इस युवती में अनुसन्धान की असाधारण प्रतिभा छिपी थी जो आज उसे बिलासपुर से आस्ट्रेलिया होते हुए केलिफोर्निया तक ले गयी है। बैन ऑफ़ महाराष्ट्र से  सेवानिवृत्त कपूर वासनिक ( मोबाइल लाइब्रेरी के नाम से मशहूर ) की बेटी है समीक्षा. बिलासपुर की इस बेटी ने सचमुच शहर , छत्तीसगढ़ और देश का नाम गौरवान्वित किया है। वर्तमान में समीक्षा लोमा लिंडा यूनिवर्सिटी कैलिफोर्निया ,अमेरिका के रिजनरेटिव मेडिसिन विभाग में पोस्ट डॉक्टोरल रिसर्च कर रही हैं।
                                     सेल एंड टिशू कल्चर इंजीनियरिंग ,हैदराबाद में वे कार्यरत रही। उन्हें संगीत और पर्यटन में काफी दिलचस्पी है।  यकीनी तौर पर " किताबी कीड़ा " तो होंगी ही!अकादमिक शिक्षा की बात करें तो समीक्षा ने गुरु घासीदास विवि बिलासपुर छत्तीसगढ़ के बायो तकनालॉजी  विभाग से मास्टर ऑफ़ साइंस की उपाधि 2003-2005में प्रथम श्रेणी एवं स्वर्ण पदक  से  हासिल की  थी।बीएस सी माइक्रो बायोलॉजी ,डीपी विप्र महाविद्यालय से किया।
.समीक्षा वासनिक के मॉलिक्यूलर बॉयोलॉजी में वैज्ञानिक अनुसन्धान के विषय रहे हैं- DNA, RNA isolation. DNA preparation. olymerase chain reaction. Reverse transcription. Reverse transcription. Protein purification. Spec quantification of nucleic acids and protein. DNA sequencing (ABI -3700). Real time PCR. Blunt end cloning. Plasmid isolation.Gel electrophoresis.      

Cell biology के विषय में Derivation, maintenance and differentiation of Adult stem cells from different sources.

Cell culture of different human cell lines. (Digestion, passaging, trypsenization, freezing and revival of cells, subcuturing)
Characterization of different types of MSCs.Morphological analysis of cells,Karyotyping, CFU, FACS, cell counting.
Immunostainings and immunoprofiling of cells.Cloning, transfection, transformation.

अनुसन्धान पर आधारित उनके शोध लेख में प्रमुख हैं -1  Dopamine transporter (DAT1) VNTR polymorphism and alcoholism in two culturally different populations of south India.
 2 . Ex vivo expansion of haematopoietic stem/progenitor cells from human umbilical cord blood on acellular scaffolds prepared from MS-5 stromal cell line
3  Evaluation of nano-biphasic calcium phosphate ceramics for bone tissue engineering applications: In vitro and preliminary in vivo studies
                            कोई अनुसंधानकर्ता कम्प्यूटर सावी न हो कैसे हो सकता है?वे Windows and Macintosh. BLAST, ClustalW, clustalX, genedoc, genetool, primer3, PERL PRIMER. Auto assembler, sequencing analysis
 GenBank, SwissProt, Mitoanalyzer में पूरी तरह एक्सपर्ट हैं। अब करें शोध अनुभव की बात
सितमबर 2006 -2008 तक उन्होंने सीएसआईआर स्पॉन्सरशिप के प्रोजेक्ट में सेंटर फॉर सेल एंड मॉलिक्यूलर बॉयोलॉजी हैदराबाद के डॉ। शशि सिंह के मार्दर्शन में प्रोजेक्ट सहायक के बतौर काम किया।  इस प्रोजेक्ट के उद्देश्य थे

Epithelial cells- Culture of corneal stem cells, Subtraction of epithelial stem cells from central cornea.
Scaffold perpetration, Growth of different cells in scaffold, Histology of scaffold.
Genomic of epithelial cells using different markers and isolation of corneal endothelial cells.
Real Time analysis of different corneal cells stem cells markers.

अप्रैल   2006 से अगस्त  2006तक समीक्षा सीसीएमबी में “Molecular epidemiology of alcoholism” प्रोजेक्ट के अंतर्गत डॉ के थंगराज के साथ
गेस्ट वर्कर रहीं। इसका उद्देश्य था To evaluate candidate genes for alcoholism like Dopamine receptor, alcohol dehydrogenase, Aldehyde dehydrogenase, Neuropeptide Y, Gamma amino butyric acid (GABA) receptor.
फरवरी से जुलाई  2005 के एमएससी प्रोजेक्ट वर्क में -
 “Y-chromosome and mtDNA phylogeny among Sonkar caste of Chhattisgarh”पर कार्य किया।
इसके अलावा उन्होंने अनेक वर्कशॉप में भागीदारी निबाही।बीएचयू  (14-16 dec2007) में
Differentiation of Mesenchymal Stem Cells into Osteogenic cells in vitro
At XXXI all India cell biology conference and symposium on stem cells held at BHU.  विषयक पोस्टर प्रेजेन्टेशन भी दिया। वर्तमान में समीक्षा वासनिक लोमा लिंडा यूनिवर्सिटी कैलिफोर्निया ,अमेरिका के रिजनरेटिव मेडिसिन विभाग में पोस्ट डॉक्टोरल रिसर्च कर रही हैं  पी एच डी  में उनका विषय था
"Tissue Engineered, Biomimetic Acellular Matrices for Expansion of Hematopoietic Progenitors" पर पोस्ट डॉक्टोरल रिसर्च कर रही हैं। युवाओं के लिए सबसे प्रेरक बात तो यह है की समीक्षा पुणे में अपने काम  के दौरान पार्ट टाइम जॉब कर अपना खर्च खुद निकालती रही। अनुसंधान के क्षेत्र में उनका कार्य छत्तीसगढ़ के युवाओं में निश्चित रूप से प्रेरणास्पद होगा।

Reactions:

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें