शनिवार, 25 सितंबर 2010

दिवाली से पहले दिवाली

Posted by with No comments
छत्तीसगढ़ की रमण सरकार ने कर्मचारियों में २०० करोड़ का महगाई भत्ता बाटने का एलान कर दिवाली से पहले दिवाली का माहोल बना दिया.कोटवारो का मानदेय बढ़ने से उनमे भी ख़ुशी का संचार है.इधर कामन वेल्थ खेल से बाहर हुई प्रीती बंछोर ने अपनी निकासी को पक्ष पात करार दिया है.आखिर इसकी जांच कौन करेगा की सच क्या है?वैसे तो राष्ट्र मंडल खेल प्रथम ग्रासे   मक्षिका पात बन चुके है.भटगांव चुनाव की वजह से सियासी गलियारे गरम है. दोनों ही पार्टिया अपनी ढपली अपना राग अलापने लग गयी है.मंत्रीजी अमर अग्रवाल भी तीर्थाटन पर निकल चुके है  शाययद मनोती लेकर! रायपुर से अच्छी खबर मिली थी की सड़क यातायात में बाधक बने धर्मस्थालियो को हटाने जिला प्रशासन ने कमर कस ली है.लम्बे समय से इस तरह की पहल चलाई जाती रही है . लेकिन राजनैतिक इच्छा शक्ति  न होने तथा नागरिको के असहयोग से भी उसे अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका है.अपने बिलासपुर में भी चाहिए की ऐसी मुहीम व्यापक स्तर पर चले.यातायात ठीक करने जन सहयोग जरूरी है.ख़ास तौर पर प्रताप टकिस चोक से गाँधी चोक तक अतिक्रमण विरोधी मुहीम चलनी चाहिए. शहर में यातायात के लिए बध्हक धर्मस्थालिया चिन्हांकित कर शीर्ष कमिटी की निगरानी में यह कार्य अंजाम दे.आज बस इतना ही. कल फिर मिलेंगे.  शब्बा खैर... शुभ रात्रि... अपना ख्याल रखिये  
Reactions:

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें